top of page

राम मंदिर अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर श्री राजीव झा के प्रस्तुति

सीता मैया अवध गेली बियाहल

बहिन कें नहि भेलनि सुख प्राप्त

बिदा भेली कानन बिहार सँ

फेर असगरे केलीह आँच बिहार।


तदुपरांत अर्थगर्भित होइतहुँ

कयलनि स्वाभिमान संग वन बिहार

आइ मैया आ बहिन सीताकें

बड़ दिन बाद भेटतनि ससुरारि।


बिन सीता, राम केर अस्तित्वक

हम सब नहि करी कोनो विचार।


मैथिल छी हम तैँ, मैथिली केर

नहि सहि सकैत छी तिरस्कार।।


जय जय सियाराम

124 views0 comments

Recent Posts

See All

Comments


bottom of page